Sadi Ki Dukan Kaise Khole | जानिए साड़ी बेचने का सही तरीका

अगर आप साड़ी दुकान खोलने की सोच रहें हैं तो सबसे पहले आपको पता होना चाहिए कि साड़ी दुकान खोलने का सही तरीका क्या होता है। 

क्योंकि बहुत सारे लोग लोग बिना किसी जानकारी के एक-दूसरे की देखा-देखी दुकान खोल लेते हैं और 

जो काम आसानी से हो सकता था उसके लिए परेशान होते हैं। 

अगर आप साड़ी का दुकान शुरू करने से पहले  जगह का चयन, उस एरिया में साड़ी की मांग का प्रकार, कम्पटीशन, सप्लायर और कस्टमर की जरूरतों से जुड़ी बातों का ध्यान रखेगे तो आपको अपना साड़ी का दुकान चलाने में आसानी होगी और इस बिजनेस के जरिए आपके सफल होने का चांस भी बढ़ जाएगा।  

आज के इस आर्टिकल में हम आपको साड़ी का दुकान कैसे खोले से लेकर इसमे सफल होने तक की स्टेप बाई स्टेप पूरी जानकारी देने वाले है। 

साड़ी का बिजनेस कैसे शुरू करें इसकी पूरी जानकारी के लिए इस खास अर्टिकल के साथ बने रहिए………. 

Sadi Ki Dukan Kaise Khole: साड़ी का दुकान खोलने का तरीका 

1. बिजनेस प्लान बनाए | Make business plan

साड़ी का दुकान खोलने से पहले आपको उसका एक बिजनेस प्लान तैयार करना चाहिए। बिजनेस प्लान में इस बात का ब्यौरा होगा कि इस बिजनेस को शुरू करने में आपको कितना लागत आएगा , जैसे कि दुकान का किराया ,इंटेरियर डिजाइनिंग में कितना खर्च हो सकता है , साड़ी का स्टॉक मंगाने में कितना खर्च करना होगा ,इस लागत को लगाकर आप कितनी कमाई कर सकते हैं।  

जब आप बिजनेस प्लान में इस तरह की चीजे स्पष्ट रूप से लिख देंगे तो साड़ी का दुकान खोलना आपके लिए बहुत आसान हो जाएगा।  और आप बार-बार उलझनों में फंसे नहीं रहेंगे कि कहाँ पर कितना खर्च करना है। 

क्योकि बिजनेस प्लान बना लेने के बाद आपको अपना बिजनेस शुरू करने को लेकर एक मोटा-मोटा आइडिया लग जाता है।  

जब आप ये काम कर ले तो इसके बार आगे बताई जा रही चीजो पर गौर फरमाए। 

2. डिमांड और मार्केट रिसर्च | Demand and Market Research

साड़ी का दुकान खोलने से पहले आपको यह चीज जरूर पक्का कर लेना चाहिए कि आप जिस वैरायटी की साड़ी का स्टॉक अपने दुकान में रखने वाले हैं उसकी आपके एरिया में डिमांड है या नहीं। क्योकि अलग-अलग जगह के लोगो का पहनावा और रहन-सहन अलग-अलग होता है। 

उदाहरण के लिए 

कहते हैं बनारस में बनारसी साड़ी खूब चलती है और महाराष्ट में पैठणी साड़ी । 

अगर आप बनारस में साड़ी का दुकान खोलकर महाराष्ट्र की पैठणी साड़ी बेचेंगे तो शायद कम ही बिके लेकिन बनारसी साड़ी जरूरी बिकेगी। 

इसलिए अपने एरिया और ट्रेंड के अनुसार सही किस्म के साड़ी से साड़ी का बिजनेस शुरू करें।  

अगर आप इस बात का ध्यान रखकर साड़ी का दुकान खोलेंगे तो आपको शुरू से बहुत बेनिफिट मिलेगा। 

3. साड़ी की दुकान के लिए जगह का चयन | Selection of place to shop for saree

जब आप यह तय कर ले कि आप अपने दुकान में किस वैरायटी के साड़ी का स्टॉक रखेगे तो इसके बाद अगला सबसे जरूरी स्टेप है आपके दुकान का लोकेशन यानी आप किस दुकान जगह खोलेंगे? 

क्योंकि अगर आप किसी ऐसे जगह पर दुकान खोल लेते हैं जहां ऑलरेडी साड़ी के दुकानों की लाइन लगी हुई है तो इस जगह पर साड़ी की दुकान खोलने से आपको कुछ खास फायदा नहीं होगा। 

इसलिए साड़ी की दुकान के लिए जगह चुनते समय इन बातों का ध्यान रखें-  

  • दुकान मार्केट में, मेन रोड के किनारे या किसी ऐसे पब्लिक एरिया में होना चाहिए  जहां अक्सर भीड़-भाड़ा या लोगों का आना-जाना बना रहता हो।  
  • अलग-थलग गली या किसी ऐसे तंग रास्ते में अपनी साड़ी की दुकान न खोलने जहां से होकर कस्टमर को आने-जाने में दिक्कत हो। 
  • साड़ी दुकान के लिए कोई ऐसा जगह ढूंढे जहां ऑलरेडी पहले से दुकान न हो या कम हो।  
  • आपके साड़ी दुकान के पास पार्किंग के लिए थोड़ी होगा तो आपके कस्टमर के लिए अच्छा होगा। क्योकि पार्किंग पास होगी तो उन्हें आपके दुकान तक आने के लिए ज्यादा चलना नहीं पड़ेगा और वो अपने वाहन का जायजा भी लेते रहेंगे कि गाड़ी खड़ी या कोई उड़ा ले गया।  

4. एग्रीमेंट और कानूनी कार्यवाही | Agreement and legal proceedings

जब आप अपने साड़ी की दुकान के लिए कोई अच्छा-सा लोकेशन ढूंढ ले जहां यह धंधा बढ़िया फले-फूले। तो उस जगह पर साड़ी का दुकान खोलने के लिए आपको या तो खुद का दुकान बनवाना होगा या फिर कोई खाली रूम किराए पर लेना होगा जिसे दुकान का शक्ल दिया जा सके। 

चाहे आप किराए पर दुकान ले या खुद की शॉप बनवाए आपको शॉप और जमीन का एग्रीमेंट या कानूनी कागजात बनवाना पड़ेगा।  

क्योकि ऐसा अक्सर होता है कि जब दुकान चलने लगती तो बीच में जगह खाली करने या किराएदार किसी और को वह दुकान किराए पर देने की बात शुरू कर देता है।  

अगर आप ऐसे झंझट से बचना चाहते हैं तो Rent एग्रीमेंट या जमीनी कागजात पहले से बनवाकर तैयार रखें। 

5. डिजाइनिंग और सजावट | Designing and decoration

किसी भी दुकान की अच्छी बिक्री और ग्राहकों को लुभाने में उसकी सजावट और डिजाइनिंग का योगदान बहुत महत्वपूर्ण होता क्योंकि कोई भी ग्राहक दुकान में तभी आता है जब वह उसे बाहर से देखने में अच्छी लगती है इसलिए आपको भी अपने साड़ी के दुकान की सजावट पर ध्यान देना होगा। 

अपने दुकान की बाहर से कुछ इस डेकोरेशन करवाए कि दूर देखते ही पता चल जाए की ये साड़ी की दुकान है और फिर कस्टमर खुद ही खिंचे चले आएंगे।  

इसके साथ ही आपको दुकान में साड़ियों को इस तरह से व्यवस्थित करके रखना होगा जिससे आपको समझने में आसानी हो कि किस वैराइटी की साड़ी किधर रखी है। 

अपने शॉप की डिजाइनिंग और डेकोरेशन के लिए आप शॉप डिज़ाइनर की हेल्प ले सकते हैं। 

6.सप्लायर से साड़ी का स्टॉक ले | Take stock of saree from supplier

ऊपर के सभी स्टेप को यहां तक फॉलो करने के बाद अब आप साड़ी का दुकान खोलकर इस बिजनेस को करने के लिए तैयार है। 

बस आपको माल खरीदकर लाना है।  इसके लिए आपको किसी अच्छे साड़ी होलसेलर से संपर्क करना होगा जो आपको सस्ते दाम में अच्छी क्वालिटी के साड़ी का स्टॉक दे सके । 

अपने साड़ी की दुकान के लिए अच्छे होलसेलर का चुनाव करते  समय इन बातों का ध्यान रखें-  

  1. आपका सप्लायर आपको लेटेस्ट डिज़ाइन के साड़ी उपलब्ध कराए।  
  2. सप्लायर के तरफ से दी जाने वाली साड़ियों की क्वालिटी उत्तम हो 
  3. माल खत्म होने से पहले या सही सीजन पर साड़ियों का स्टॉक मिल जाए। 
  4. सप्लायर ऐसा चुने जिससे आपका तालमेल बैठा हो। 

एक अच्छे सप्लायर की इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए हम आपको साड़ियों के जाने-माने सप्लायर Ajmera Fashion से संपर्क करने की सलाह देते हैं। 

Ajmera Fashion से संपर्क करने के लिए जरूरी जानकारियां

Call or Whatsapp : +919998874010 , +919726853210 

Direct on Whatsapp: https://api.whatsapp.com/send?phone=919998874010&text=Hi  

Address: Ajmera Fashion Private Limited. , D-5491, 3rd Floor, Lift No.15, Raghukul Textile Market, Ring Road, Surat, Gujarat, India – 395002

Email: ajmerafashion@gmail.com

Youtube Link – https://www.youtube.com/c/AjmeraFashionSyntheticSareeManufacturer/videos  

Website Link : https://ajmerafashion.com/ 

7. ग्राहकों का खास ध्यान रखें | Take care of customers

अगर आप साड़ी की दुकान को अच्छे से चलाना चाहते हैं तो आपको अपने ग्राहकों का खास ध्यान रखना होगा. 

जैसा कि अगर वो कुछ डिस्काउंट मांगते हैं तो आप उतने रुपए में बेचिए जिससे आपको फायदा मिल जाए और ग्राहक को डिस्काउंट . इससे लोग-बाग एक-दूसरे से आपके दुकान की वाह वाही करेगे और फिर डिस्काउंट के चक्कर में ज्यादा लोग आपके दुकान में आएंगे।   

इसके अलावा आपको ग्राहकों से अपना अच्छा व्यवहार बनाए रखना होगा क्योकि कोई भी व्यापार , व्यवहार से चलता है। 

टिप- अगर आप कस्टमर को खुद से साड़ी निकालकर देखने का ऑप्शन देंगे तो वो अपने पसंद की और भी चीजे खरीद सकते हैं और आपकी बिक्री को भी बढ़ा सकते हैं।  

8. अपने साड़ी बिजनेस की मार्केटिंग करें | Marketing your saree business

किसी भी बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए या उसे बड़ा करने के लिए मार्केटिंग का सहारा लिया जाता है। 

अगर समय के साथ आपके साड़ी दुकान की तरक्की नहीं हो रही है या आपको लगता है कि जैसे आपने सोचकर रखा था उसके मुताबिक रिजल्ट नहीं मिल रहा है तो आपको अपने बिजनेस की मार्केटिंग के तरफ ध्यान देना चाहिए।  

आज के जमाने में बिजनेस की मार्केटिंग करना बहुत ही सस्ता और आसान हो गया है। आप फ्री और Paid दोनों तरीको से अपने बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते हैं। आगे मार्केटिंग के कुछ तरीको के बारे में बताया गया है-

  1. ईमेल-मार्केटिंग 
  2. सोशल मीडिया मार्केटिंग 
  3. वीडियो मार्केटिंग 
  4. सर्च इंजन मार्केटिंग 
  5. सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन

अगर आप डीटेल में जानना चाहते हैं कि अपने बिजनेस की मार्केटिंग कैसे करें तो इस पोस्ट को एक बार जरूर पढ़िए । आपको इससे बहुत हेल्प मिलेगा। 

निष्कर्ष

साड़ी की दुकान खोलने के लिए आने वाली लागत और संभावित कमाई से लेकर डिमांड, मार्केट रिसर्च, दुकान के लिए लोकेशन का चुनाव , डिजाइनिंग-सजावट, सप्लायर से माल खरीदकर , ग्राहकों को बेचने और बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए मार्केटिंग करने तक एक-एक बात डीटेल में बतायी है। 

इसलिए हम उम्मीद करते हैं कि साड़ी की दुकान खोलने में आपके लिए यह जानकारी बहुत काम आएगी।  

 साड़ी दुकान खोलने का तरीका – Sadi Ki Dukaan Kaise Khole टॉपिक पर आज के पोस्ट में दी गई यह जानकारी कैसा लगा कमेंट करके जरूर बताए।  

धन्यवाद 

Leave a Comment