मैं किसी भी कंपनी की डीलरशिप लेना चाहता हूं (Dealership Kaise le)

क्या आपको डीलरशिप चाहिए ?  अगर हाँ , तो आप एकदम सही लेख मे पहुँच आए हैं। क्योंकि आज के इस आर्टिकल मे हम आपको Dealership Kaise Le? के अंतर्गत डीटेल में स्टेप बाई स्टेप बताएगे कि डीलरशिप बिजनेस कैसे शुरू करें? और किसी भी कंपनी की डीलरशिप कैसे लें? इसके साथ आप यह भी जानेंगे कि-

  • डीलरशिप क्या होता है ? 
  • डीलरशिप और डिस्ट्रीब्यूटरशिप में क्या अंतर है?
  • डीलरशिप बिजनेस के लिए बेस्ट बिजनेस आइडिया कौन से हैं? 
  • खाद्य उत्पादों के लिए डीलरशिप अवसर

अगर आप इन सबके बारे मे विस्तार से जानना चाहते हैं तो आपको हमारा यह खास लेख लास्ट तक जरूर पढ़ें। उम्मीद करते हैं कि आपको यह जानकारी बेहद पसंद आएगा। तो बिना देरी किए आइए इस सफर को शुरू करते हैं-

Table of Contents

डीलरशिप क्या होता है | Dealership Kya Hota Hai 


अगर बात करें कि dealership meaning in hindi तो vocabulary.com वेबसाइट के मुताबिक डीलरशिप का मतलब एक ऐसे दुकान/स्टोर से है जहाँ किसी ख़ास ब्रांड की चीज़ें बिकती हैं। इसका मतलब है कि डीलरशिप लेने वाला व्यक्ति ही उस ब्रांड का प्रॉडक्ट बेच सकता हैं जिन्होने पहले से परमिशन ली है।  जैसे कि अगर कार डीलरशिप की बात की जा रही तो इसका मतलब है किसी व्यक्ति ने जाने माने ब्रांड से टाईअप करके उनका कार अपने लोकल एरिया मे बेच रहा है।  इन कार को बेचने के लिए showroom भी खोला जा सकता है जहां टेस्ट ड्राइविंग सर्विस , कार रीपेयरिंग सर्विस दी जा सकती है। 

डीलरशिप और डिस्ट्रीब्यूटरशिप में क्या अंतर है?

अगर आप dealership vs distributorship के बीच का अंतर नहीं जानते तो बिजनेसमैन होने के नाते आपको इसके बारे मे जानकारी होना चाहिए। इसलिए आगे हम आपको dealership vs distributorship के बीच का फर्क बता रहे हैं। 

डीलर किसे कहते हैं 

डीलर वो व्यक्ति  होता है जो अपने बिज़नेस के लिए कोई प्रोडक्ट खरीदता है, उसे स्टॉक करके फिर से बेच देता है। डीलर आमतौर पर डिस्ट्रीब्यूटर और कस्टमर के बीच मिडल मैन का काम करता है और अपने एरिया में उस प्रोडक्ट की ऑथोराइज़्ड सेलिंग करता है। इसके अलावा डीलर अलग-अलग ब्रांड्स के प्रोडक्ट्स को खरीद के उन्हें ज़्यादा प्राइस में बेच सकता है और बड़ा प्रॉफिट कमा सकता है। अगर सिम्पल शब्दों में कहा जाए तो डीलर वो होता है जो किसी पार्टिकुलर प्रोडक्ट से डील करता है, उसे खरीदता है और प्रॉफ़िट कमाने के लिए ज्यादा दाम मे बेच देता है।

डिस्ट्रीब्यूटर किसे कहते हैं? 

डिस्ट्रीब्यूटर एक ऐसे व्यक्ति को कहते हैं जो किसी खास एरिया में रहकर सामान का वितरण यानि डिस्ट्रीब्यूट करता है। उस एरिया में किसी भी रिटेलर्स और डीलर्स के लिए प्रोडक्ट को खरीदने का एकमात्र सोर्स डिस्ट्रीब्यूटर होता है। आम तौर पर, कंपनी द्वारा डिस्ट्रीब्यूटर को उनके प्रोडक्ट को बेचने के लिए नियुक्त किया जाता है। डिस्ट्रीब्यूटर मैन्युफैक्चरर्स और रिटेलर्स के बीच एक कड़ी की तरह काम करता है और मैन्युफैक्चरर्स के तरफ से प्रोडक्ट को प्रमोट करता है तथा रीटेल मार्केट मे बेचता है।

एक डिस्ट्रीब्यूटर कंपनी से माल को थोक में खरीदता है और दूसरे बिजनेस और आउटलेट्स को फुटकर में बेचता है। डिस्ट्रीब्यूटर कस्टमर्स को रिप्लेसमेंट सर्विस, आफ्टर-सेल सर्विस, टेक्निकल सपोर्ट जैसे कुछ सर्विस भी ऑफर करता हैं।

dealership vs distributorship

Dealer Distributor 
इनका क्या मतलब है 
डीलर उस व्यक्ति को कहते हैं जो खुद से सामान खरीदता और बेचता है। डिस्ट्रीब्यूटर  दूसरे डीलर और बिजनेस को प्रॉडक्ट डिस्ट्रीब्यूट करता है।  
Establish links between
डीलर डिस्ट्रीब्यूटर  और कस्टमर के बीच की कड़ी है। डिस्ट्रीब्यूटर  Manufacturer और डीलर के बीच की कड़ी है। 
Purpose
डीलर अपने बिजनेस के लिए प्रॉडक्ट खरीदता है और उन्हे कस्टमर को बेचता है। डिस्ट्रीब्यूटर  मैनुफेक्चर से प्रॉडक्ट खरीदता है और उन्हे डीलर तथा दूसरे बिजनेस को बेचता है। 
प्रॉडक्ट 
डीलर प्रॉडक्ट के किसी एक कैटेगरी मे रहकर ही खरीद-फरोख्त करता है। डिस्ट्रीब्यूटर अलग-अलग तरह के प्रॉडक्ट को खरीदता बेचता है।  
कॉम्पटिशन 
इसमे थोड़ा कॉम्पटिशन होता है। इसमे कॉम्पटिशन नहीं होता है। 
सेलिंग एरिया 
डीलर का सेलिंग एरिया लिमिटेड होता है। डिस्ट्रीब्यूटर  का सेलिंग एरिया बड़ा होता है। 

डीलरशिप बिजनेस कैसे शुरू करें? 


एक सफल डीलरशिप का बिजनेस शुरू करने के लिए कई स्टेप उठाने होते हैं. लेकिन आप इन 7 स्टेप को फॉलो करके डीलरशिप बिजनेस शुरू कर सकते हैं

स्टेप-1 किसी प्रॉडक्ट को चुने 

डीलरशिप बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आपको कोई एक प्रोडक्ट चुनना होगा जिसे आप बेचना चाहते हैं।   अगर आपको समझ में नहीं आ रहा है कि आपको किस तरह का प्रोडक्ट बेचना चाहिए तो आप अपने आसपास के एरिया को समझें और लोगों की जरूरत है कि चीजें बेचें।  इतने पर भी अगर आपको समझ में नहीं आ रहा है कि कौन सा प्रोडक्ट बेचना चाहिए तो आप दूसरे डीलर से बात कर सकते कि आजकल मार्केट में कौन सा चीज सबसे ज्यादा चल रहा है, जिसे बेचने पर अच्छा प्रॉफिट हो।  

स्टेप-2 सप्लायर्स से कांटेक्ट करें

जब आप तय कर लें कि आप किस तरह के प्रोडक्ट बेचना चाहते हैं तो इसके बाद आपको प्रोडक्ट  मंगाने के लिए सप्लायर्स से कांटेक्ट करना होगा।  अगर आप डीलरशिप बिजनेस में अभी नए-नए हैं तो अच्छा होगा कि आप लोकल सप्लायर के साथ कांटेक्ट करें जिससे आपका प्रोडक्ट शिपिंग कॉस्ट भी बच जाएगा। 

स्टेप-3 अपना शॉप या गोडाउन स्थापित करें

एक सफल डीलरशिप बिजनेस शुरू करने के लिए आपको जो अगला कदम उठाना है वह है वर्क स्पेस स्थापित करना।  अपने डीलरशिप बिजनेस के लिए स्टोर/दुकान बनाते समय ध्यान रखें कि माल का स्टॉक करने के लिए पर्याप्त जगह हो। अगर आपके पास ज्यादा बजट नहीं है तो  शुरुआती समय में आप अपने घर में ही माल रख सकते हैं।  और फिर जब बिजनेस में प्रॉफिट मिलने लग जाए तो आप खुद का गोडाउन भी बनवा सकते हैं। 

स्टेप-4 क्रेडिट पॉलिसी बनाएं

किसी बिजनेस में अक्सर उधार हो ही जाता है।  ऐसे में डीलरशिप बिजनेस में सफलता पाने के लिए आपको  उधारी से बचना होगा या फिर आप अपना एक क्रेडिट पॉलिसी बना लें। इसके तहत आप सिर्फ उन लोगों को उधार देंगे जो आपको बाद मे पैसे लौटा सके।  अगर आप कुछ इस तरह की रणनीति बनाकर तो चलेंगे तो जल्द ही आपका पैसा वापस मिल जाएगा। 

स्टेप-5 अपना नेटवर्क बढ़ाएं

डीलरशिप एक ऐसा बिजनेस है जिसमें लोगों से मिलते रहना ज्यादा ज्यादा नेटवर्क बनाना जरूरी है।  इसलिए आपको अपने नेटवर्क बढ़ाने पर भी ध्यान देना चाहिए।  

स्टेप-6 ख़रीदारी का पॉलिसी बनाएं

डीलरशिप बिजनेस को चलाने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप माल को थोक में खरीदें और फिर उस छोटे-छोटे यूनिट यानी की फुटकर में पैक करके ज्यादा दाम पर बेचे। इस तरह आप डीलरशिप बिजनेस में अच्छी कमाई कर पाएंगे । 

स्टेप-7 अपने बिजनेस पर नजर रखें 

अपने बिजनेस की परफॉर्मेंस पर नजर रखते रहे और रिटेलर के साथ संपर्क मे रहे।  इससे आप उन्हें उनकी डिमांड के अनुसार माल ऑर्डर कर सकते हैं और रिटेलर्स को सही प्रोडक्ट बेच सकते हैं।   

मैं किसी भी कंपनी की डीलरशिप लेना चाहता हूं | i want to take dealership of any company in india


अगर आप किसी बड़े की कंपनी डीलरशिप लेना चाहते हैं तो इसके लिए  कई तरीके हैं जिनकी मदद से आप किसी भी कंपनी का डीलरशिप ले सकते हैं। हालांकि इन तरीकों से डीलरशिप लेने के लिए आपको थोड़ा-सा मेहनत तो करना पड़ेगा- 

How to get dealership

  • सेल्स मैनेजर से बात करें: Dealership Kaise le के लिए सबसे पहले आप संबंधित ब्रांड के सेल्स मैनेजर से बात करके पूंछ सकते हैं कि क्या उनके कंपनी को डीलर की जरूरत है? 
  • मौजूदा डीलर से बात करें:  अगर किसी वजह से सेल्स मैनेजर से आपका बात चीत नहीं हो पा रहा है तो आप अपने इलाके के किसी डीलर से मिलकर डीलरशिप दिलाने के बारे मे बात कर सकते हैं। 
  • वेबसाइट में जाकर अप्लाई करें:  कंपनी की वेबसाइट में जाकर आप संबंधित कंपनी का डीलरशिप कैसे ले ? के बारे में जानकारी प्राप्त सकते हैं ।

हर कंपनी अपने डीलर सिलेक्ट करने से पहले कुछ क्राइटेरिया बनाती है जिसके आधार पर डीलर को नियुक्त किया जाता है। अगर आप कंपनी के द्वारा बनाए गए क्राइटेरिया पर खरा उतरते हैं तो चांसेस हैं कि आपको उस कंपनी का डीलरशिप मिल जाए। 

वैसे किसी का कंपनी में डीलरशिप के लिए अप्लाई करने से पहले बिजनेस प्लान और प्रेजेंटेशन तैयार करें। और फिर संबंधित मैनेजर से अपॉइंटमेंट लेकर डायरेक्टली बात करें कि क्या उन्हें किसी डीलर की जरूरत है?  अगर आपका यह पूरा प्रोसेस सही रहता है तो मैनेजर आपको डीलरशिप देने से मना नहीं कर पाएगा। 

डीलरशिप व्यापार विचारों | Dealership Business Ideas


दोस्तों, आज के टाइम पर बिजनेस आइडियाज की बिल्कुल भी कमी नहीं है लेकिन जब डीलरशिप बिजनेस आइडिया की बात आती है तो  आगे बताए जाने वाले बिजनेस आइडिया डीलरशिप के मामले में सबसे प्रॉफिटेबल बिजनेस आइडिया साबित हो सकते हैं- 

1. Automobile

आजकल लगभग सभी लोग  टू व्हीलर या फोर व्हीलर का इस्तेमाल करते हैं इसलिए ऑटोमोबाइल का सेक्टर बहुत तेजी से आगे बढ़ रहा है।  ऐसे में आप ऑटोमोबाइल डीलरशिप बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं।  इस बिजनेस को स्टार्ट करने के लिए आपको छोटा-सा रिटेल स्टोर खोलना होगा जहां आप ऑटोमोबाइल पार्ट्स , एक्सेसरीज के साथ कार वाशिंग का सर्विस कस्टमर को दे सकें। 

हमारे देश में बहुत सारे पॉपुलर ऑटोमोबाइल ब्रांच है जैसे कि बजाज , हीरो मोटर कॉर्पोरेशन, एमआरएफ टायर, मारुति सुजुकी आदि । आप इन ऑटोमोबाइल कंपनी का डीलरशिप लेकर अच्छा प्रॉफिट कमा सकते हैं। 

2. Arts and Crafts

अगर आपको आर्ट एंड क्राफ्ट यानी कला और शिल्प से जुड़ी चीजें बनाने का शौक है तो आप आर्ट एंड क्राफ्ट डीलरशिप बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इस बिजनेस में बहुत अच्छा अपॉर्चुनिटी है। आप कॉस्टयूम ज्वैलरी , खिलौने , मोमबत्ती जैसे चीजें बेचकर इस बिजनेस में अपना हाथ आजमा सकते हैं। 

3. Computer Hardware and Accessories 

अगर आपको कंप्यूटर के बारे में अच्छी जानकारी है तो आप इस सेगमेंट में डीलरशिप बिजनेस शुरू कर सकते हैं। बता दें कि कंप्यूटर हार्डवेयर एक्सेसरीज का डीलरशिप बिजनेस बहुत कंपटीशन वाला है लेकिन इसमें मुनाफा भी बहुत अच्छा होता है। कंप्यूटर हार्डवेयर और एक्सेसरीज डीलर के तौर पर आप मेमोरी कार्ड , यूएसबी , फ्लैश ड्राइव, एक्सटर्नल स्टोरेज डिवाइस ,मॉनिटर ,केवल, इनपुट डिवाइस और कंप्यूटर से जुड़े अन्य सामान बेच सकते हैं।  

4. Furniture and Interior 

फर्नीचर और घर के सजावट से संबंधित सामानों को बेचकर भी आप अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। इस बिजनेस में सबसे ज्यादा मुनाफा होता है, आप इस बिजनेस में कई तरह के फर्नीचर बेच सकते हैं जैसे कि लकड़ी का , बांस का , लोहे का आदि। इसी के साथ  आप घर के सजावट से जुड़े सामान भी बेच सकते हैं।  

5. Sports Items  

स्पोर्ट आइटम डीलर बनकर आप बहुत सारे प्रोडक्ट बेच सकते हैं जैसे कि आउटडोर और इंडोर गेम के लिए एक्यूमेंट एंटरटेनमेंट और फिशिंग के प्रोडक्ट साथ में संगीत से जुड़े चीजें भी बेच सकते हैं।  लेकिन ध्यान रहे कि अगर आप इस बिजनेस मे नए-नए हैं तो सिर्फ कुछ कैटेगरी से यह कारोबार शुरू करें।

6. Plastic – 

आजकल प्लास्टिक और पॉलीमर से बने घरेलू सामान पैकिंग इंडस्ट्री में यूज किए जाते हैं। इसलिए इस बिजनेस में भी काफी प्रॉफिट है। डीलरशिप बिजनेस के तौर पर आप प्लास्टिक का बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं। 

7. Jewellery Dealership Business

हमारे इंडिया में ज्वेलरी का चलन बहुत पहले से रहा है यानि कि इस बिजनेस में बहुत अच्छा स्कोप है। इसलिए डीलरशिप बिजनेस आइडिया के तौर पर आप ज्वेलरी स्टोर का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। इस बिजनेस को शुरू करने के लिए अगर आपके पास बड़ा पूंजी नहीं है तो आप अपने घर से छोटे लेवल पर भी इस बिजनेस को स्टार्ट कर सकते हैं।  ज्वेलरी डीलरशिप बिजनेस शुरू करने के लिए बस आपको बड़ी कंपनियों के साथ पार्टनरशिप करना होगा। 

8. Organic Food Dealership Business

बीते कुछ समय से ऑर्गेनिक फूड लोगों के बीच काफी पॉपुलर हो रहा है इसलिए ऑर्गेनिक फूड का बिजनेस काफी जोरों-शोरों से चल रहा है।  डीलरशिप बिजनेस शुरू करने के लिए ऑर्गेनिक फूड भी एक अच्छा बिजनेस आइडिया हो सकता है।  अगर आपके पास सही जगह है और 2 से 5 लाख रुपए तक इन्वेस्टमेंट है तो आप डीलरशिप फ्रेंचाइजी बिजनेस भी स्टार्ट कर सकते हैं।  इसके लिए बस आपको जाने-माने ब्रांड के साथ टाइ-अप करना होगा और उनके प्रोडक्ट को अपने स्टोर में बेचना होगा। 

खाद्य उत्पादों के लिए डीलरशिप अवसर


Farmvilla Food Industries Private Limited

कंपनी नामFarmvilla Food Industries Private Limited
बिजनेस टाइप खाद्य उत्पादों का प्रॉडक्शन , सेलिंग और मार्केटिंग 
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 10 हजार – 50 हजार 
आवश्यक जगहजानकारी उपलब्ध नहीं 
लोकेशनDelhi, Haryana, Himachal Pradesh, Jammu & Kashmir
Get Dealership https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/farmvilla-food–3808 

Srivari Spices Food Pvt Ltd

कंपनी नामSrivari Spices Food Pvt Ltd
बिजनेस टाइपमसालों के उत्पादन विक्रेता
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 0 – 0
आवश्यक जगहजानकारी उपलब्ध नहीं
लोकेशनTelangana
Get Dealership https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/sri-vari-food-products-29320489 

shyam namkeen

कंपनी नामShyam Namkeen
बिजनेस टाइपनमकीन से जुड़े प्रॉडक्ट का मैनुफेक्चुरिंग और मार्केटिंग  
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 5 लाख – 10 लाख
आवश्यक जगह250 स्क्वायर फीट
लोकेशनUttar Pradesh
Get Dealership  https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/shyam-namkeen-3297 

Shree Chandan Food Products

कंपनी नामShree Chandan Food Products
बिजनेस टाइपनमकीन से जुड़े प्रॉडक्ट का मैनुफेक्चुरिंग और मार्केटिंग  
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 50 हजार- 5 लाख
आवश्यक जगह200 स्क्वायर फीट
लोकेशनDelhi, Chhattisgarh, Goa, Haryana +13 अधिक
Get Dealership  https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/shree-chandan-food-products-5631 

Sattva Foods

कंपनी नामSattva Foods
बिजनेस टाइपसंतुलित आहार का प्रॉडक्शन और मार्केटिंग  
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 10 हजार – 50 हजार
आवश्यक जगहजानकारी उपलब्ध नहीं
लोकेशनDelhi, Haryana, Himachal Pradesh, Jammu & Kashmir
Get Dealership https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/sattva-foods-3794 

HOME FOODS

कंपनी नामHOME FOODS
बिजनेस टाइपघरेलू खाद्य का मैनुफेक्चुरिंग और मार्केटिंग 
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 10 हजार – 50 हजार
आवश्यक जगहजानकारी उपलब्ध नहीं
लोकेशनAndhra Pradesh, Karnataka, Kerala, Tamil Nadu
Get Dealershiphttps://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/HOME-FOODS-2301 

Ready 2 Bite

कंपनी नामReady 2 Bite
  बिजनेस टाइपखाद्य सामग्री का प्रॉडक्शन और डिस्ट्रिब्यूशन 
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 0 – 0
आवश्यक जगहजानकारी उपलब्ध नहीं
लोकेशनDelhi
Get Dealershiphttps://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/ready-2-bite-5926 

Vezlay Foods Pvt. Ltd.

कंपनी नामVezlay Foods Pvt. Ltd.
बिजनेस टाइपशाकाहारी व्यंजनों का प्रॉडक्शन
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 50 हजार – 2 लाख
आवश्यक जगह200 स्क्वायर फीट
लोकेशनDelhi, Haryana, Himachal Pradesh, Jammu & Kashmir
Get Dealership  https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/vezlay-foods-pv-3662 

Dynagrow Healthy Foods Pvt. Ltd

कंपनी नामDynagrow Healthy Foods Pvt. Ltd
बिजनेस टाइपहेल्थ फूड का प्रॉडक्शन और वितरण 
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 50 हजार – 2 लाख
आवश्यक जगहजानकारी उपलब्ध नहीं
लोकेशनDelhi, Haryana, Himachal Pradesh, Jammu & Kashmir
Get Dealership https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/dynagrow-health-3452 

shree ganesh papad industries

कंपनी नामShree Ganesh Papad Industries
बिजनेस टाइपपापड़ बनाना 
आवश्यक इनवेस्टमेंट₹ 10 हजार – 50 हजार
आवश्यक जगह100 स्क्वायर फीट
लोकेशनAndaman & Nicobar Islands, Puducherry, Chandigarh, Lakshadweep
Get Dealership https://dealer.franchiseindia.com/manufacturer/ganeshpapad-1992 

अक्सर लोग इस तरह के प्रश्न पूंछते हैं- 


डीलरशिप और फ्रेंचाइजी में क्या अंतर है?

डीलरशिप फ्रैंचाइजी 
पैरेंट कंपनी अपने डीलर्स को रोजाना की गतिविधियों को कैसे चलाना है उसके बारे में सलाह दे सकती है।लेकिन फ्रैंचाइज़ी को अपने और पैरेंट कंपनी के बीच के अग्रीमेंट के अनुसार काम करना पड़ता है। फ्रैंचाइज़ी को अग्रीमेंट के अंतर्गत अपनी ज़िम्मेदारियों को पूरा करना है।
डीलरशिप शुरू करने के लिए किसी भी फीस की जरूरत नहीं है क्योंकि डीलरशिप सीधे अपने पैरेंट कंपनी से प्रोडक्ट्स खरीदती हैं और उन्हें कस्टमर्स को बेचती हैं।किसी कंपनी का फ्रैंचाइजी बनने के लिए कुछ फीस देनी पड़ती है। जैसे फ्रेंचाइजी फीस, लॉयल्टी फीस, ब्रांडिंग फीस और फ्रेंचाइजी सिस्टम के लिए फीस।
डीलरशिप का काम थोड़ा कम होता है।फ्रैंचाइज़ का काम काफ़ी बड़ा होता है। 
डीलरशिप में टारगेट नहीं होता, यहाँ पर अपने मालिक के हिसाब से टारगेट बनाया जाता है। डीलरशिप में किसी कंपनी से लाइसेंस नहीं लिया जाता।फ्रैंचाइज़ का मतलब होता है कि एक कंपनी अपने प्रोडक्ट्स को दूसरे लोगों को बेचने के लिए लाइसेंस देती है। इसमें एक टारगेट होता है कि कितने प्रोडक्ट्स बेचने हैं और ये टारगेट कंपनी डिसाइड करता है। 

ब्रोकर और डीलर में क्या अंतर है

ब्रोकर डीलर 
ब्रोकर उस व्यक्ति को कहते हैं जो दूसरों के लिए ट्रेडिंग करता है। जबकि एक डीलर अपने लिए बिजनेस करता है।
ब्रोकर अपने क्लाइंट्स के लिए सिक्युरिटीज़ खरीदता और बेचता है।डीलर खुद के अकाउंट पर सिक्युरिटीज़ खरीदता और बेचता है। 
ब्रोकर्स के पास सिक्युरिटीज़ खरीदने और बेचने के सभी अधिकार और स्वतंत्रता नहीं होती है।डीलर्स के पास सिक्युरिटीज़ खरीदने और बेचने के सभी अधिकार और स्वतंत्रता होती है
ब्रोकर्स के पास डीलर्स के तुलना में कम अनुभव होता है।यह भी देखा गया है कि ब्रोकर्स अनुभव प्राप्त करने के बाद डीलर्स बन जाते हैं।
एक ब्रोकर नॉर्मली बिजनेस करने के लिए कमीशन लेता है।एक डीलर को कोई कमीशन नहीं मिलता और वो प्रधान मुख्य होता है।

डिस्ट्रीब्यूटर कैसे बने

डिस्ट्रीब्यूटर बनने के लिए आपको सबसे पहले किसी एक कंपनी या ब्रांड के साथ रजिस्टर होना होगा। इसके बाद आपको उनके प्रोडक्ट्स को खरीदकर और उन्हें बेचकर अपना कमीशन कमाना होगा। किसी भी कंपनी का डिस्ट्रीब्यूटर बनते समय आपको उनके डिस्ट्रीब्यूशन पॉलिसीज और टर्म्स को समझना होगा। आप अपने एरिया में उनके प्रोडक्ट्स को प्रमोट कर सकते हैं और अपनी सेल्स बढ़ा सकते हैं।

डीलरशिप के लिए कितना पैसा चाहिए?

डीलरशिप बिजनेस शुरू करने के लिए कितना पैसा चाहिए यह प्रोडक्ट या सर्विस के प्रकार, डीलरशिप की साइज़, लोकेशन और अन्य बातों पर निर्भर करता है। कुछ केस में, डीलरशिप के लिए बड़े पैसे की ज़रूरत होती है, जैसे वस्तु, इन्वेंटरी, इक्विपमेंट और स्टाफिंग के लिए । वहीं कुछ केस में कम पैसे से भी काम चल जाता है। 
आप जिस कंपनी या प्रॉडक्ट का डीलरशिप ले रहे हैं उसके बारे मे आपको रिसर्च करना चाहिए ताकि आपको पता चले सके कि देयल्र्शिप के लिए कितना पैसा चाहिए।  

Dealership kaise le [निष्कर्ष] 


दोस्तों इस आर्टिकल मे हमने आपको Dealership kaise le से जुड़े तमाम सवाल के जवाब दिए और ये बताया है कि आपको किसी कंपनी की डीलरशिप कैसे मिल सकती है। 

अगर आपको डीलरशिप चाहिए तो उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल के माध्यम से आपके सवाल का जवाब मिल गया होगा। 

अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो आपसे रिक्वेस्ट है कि इसे whatsapp ,facebook जैसे किसी भी प्लेटफॉर्म मे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। ताकि उन्हे भी सही जानकारी मिल जाए। 

हमारे साथ यहाँ तक बने रहने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

1 thought on “मैं किसी भी कंपनी की डीलरशिप लेना चाहता हूं (Dealership Kaise le)”

Leave a Comment